ANJEER KE FAYDE
NUTRITION GUIDE

अंजीर के फायदे। इसके प्रकार, इस्तेमाल और नुकसान। Figs Benefits and uses

MAIN POINTS OF ARTICLE

हम अपने स्वाद को लेकर समझौता ना के बराबर ही करते हैं, जबकि सेहत को लेकर हमारे लिए समझौता करना कोई बड़ी बात नही। पर अगर कुछ ऐसा हो जिससे स्वाद और सेहत दोनो बरकरार रहे तो शायद इससे अच्छी कोई बात ही नहीं होगी। तो आज हम आपके लिए कुछ ऐसा ही लाए हैं, जिसे फल की तरह  भी खाया जाता है और सूखने के बाद ड्राई फ्रूट की तरह भी। हम बात कर रहे हैं अंजीर (Figs) की। Anjeer के फल का स्वाद तो बेहतरीन है ही, लेकिन जब यह सूख जाता है तो ड्राई फ्रूट की तरह भी खाया जाता है। आज हम अपने इस लेख में आपको Figs से जुड़े फायदे नुकसान और इसके प्रकार बताएगे। अगर आप भी Anjir खाना चाहते हैं तो इसके लिए क्या समय सही रहेगा और इसे कैसे खाया जाए, हम यह भी बताएगे। 

क्या है अंजीर -Figs in Hindi

अंजीर को अंग्रेजी में Figs कहा जाता है, यह इतिहास के सबसे पुराने फलों में से एक हैं। इतिहास में यह फल इतना गुणकारी माना जाता था कि इसके निर्यात पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाया जाता था।इसका वैज्ञानिक नाम फ़िकस कैरिका है। यह एक ऐसा फल है जो पक जाने पर गिर जाता है। इसका रंग हल्का पीला होता है, लेकिन जब यह पक जाता है तो गहरे सुनहरे रंग का हो जाता है। इसका जैम भी बनाया जाता है। अंजीर के पेड़ की छाल अन्य पेड़ों के मुकाबले काफी चिकनी होती है, यह सूखे स्थान या जंहा धूप अधिक रहती हो वंहा तेजी से फलता फूलता है। इसके रंग से इसके स्वाद पर कोई फर्क नहीं पड़ता। इसका स्वाद इस बात पर तय होता है कि यह उगाया कंहा जा रहा है। अंजीर के पेड़ लगभग 100 साल तक जीवित रहता है, विश्व का सबसे पुराना अंजीर का पेड़ सिसली के एक बगीचे में है।

Types Of Anjeer Or Figs

अंजीर बहुत प्रकार की होती है, इसे हर देश में अलग अलग नाम से जाना जाता है। अंजीर को लगभग 700 से ज्यादा नाम से जाना जाता है। इसके कई प्रकार की होने के बावजूद भी हर अंजीर का स्वाद भले ही अलग अलग हो, लेकिन इसके फायदे बिलकुल एक जैसे ही होते हैं। अंजीर के फायदे

कैप्री फिग>>>>इनमें सबसे पुरानी होती है कैप्री फिग, कहा जाता है कि इसी के जरिए अन्य अंजीर की उत्पत्ति हुई है।

ब्लैक मिशन>>> इस अंजीर का रंग बाहर से काला बैंगनी होता है, जबकि अंदर से यह पूरी तरह गुलाबी रंग की होती है। इसका स्वाद ना केवल मीठा होता है बल्कि इसमें रस भी होता है। आम तौर पर इसका इस्तेमाल केक या भोजन का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है।

कडोटा>>> इसका रंग हरा होता है, जबकि इसके भीतर बैंगनी रंग गूदा होता है। यह अन्य सभी अंजीर के मुकाबले सबसे कम मीठा होता है। इसे कच्चा तो खा ही सकते हैं, लेकिन आमतौर पर लोग इसे गर्म करके और हल्का नमक डालकर खाना पसंद करते हैं।

कैलीमिरना>>> यह साइज भी अन्य अंजीर से बड़ा होता है। बाहर से इसका रंग हरा और पीला होता है। इसका स्वाद भी अन्य अंजीरों से काफी अलग होता है।

एड्रियाटिक>>> यह अंजीर खाने में सबसे मीठा और दिखने में सबसे अच्छा होता है। इसकी बाहरी परत बिलकुल हल्के हरे रंग की होती है, जबकि अंदर से यह पूरी तरह गुलाबी रंग का होता है। इसे फल के तौर पर ही खाया जाता है।

ब्राउन तुर्की>>>> इस अंजीर की बाहरी परत बैंगनी होती है, वही अंदर से यह लाल रंग का होता है। इसका स्वाद कम मीठा होता है। इसका प्रयोग सलाद का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है।

अंजीर के फायदे -Benefits Of Figs in hindi

दोस्तो अंजीर के यूं तो अनेक फायदे हैं आप चाहे वजन कम करना चाहें, कैल्शियम की कमी पूरी करना चाहें, या गर्भवती महिला उचित मात्रा में पोषक तत्व पाना चाहती है तो वह अंजीर खा सकती है। anjeer ke fayde

सबसे अच्छी अंजीर खरीदन के लिए क्लिक करें

झूर्रियां के लिए Anjeer Ke Fayde

बढ़ती उम्र के साथ या उल्टा सीधा खाने की वजह से स्किन को पोषक तत्व मिल ही नहीं पाते जिसका असर चेहरे पर या तो पिंपल के रूप में दिखाई देता है या फिर झुर्रियों के रूप में दिखाई देता है। Anjir फल के अंदर मौजूद रस स्किन से निकलने वाले ऑयल मेलेनिन और सीबम के स्तर को कम करता है। जिससे स्किन नरिश्ड रहती है। साथ ही इसके अंदर पाए जाने वाले तत्व कील मुहासों को खत्म करने के काम में भी आता है। 

गले दर्द और सूजन से छुटकारा दिलाएगा Anjeer

अगर आपको अक्सर गले में दर्द रहता है या गले में सूजना है तो आप इसका सेवन कर सकते हैं। साथ ही अगर आपको खासी की समस्या भी है तो भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। वंही अगर आपके गले में सूजन रहती है तो आप इसका पेस्ट बनाकर गर्म पानी के साथ घोल कर गले पर लगा ले। इससे ना केवल दर्द ठीक होगा बल्कि सूजन भी पूरी तरह चली जाएगी।

आंखों पर Anjeer Ke Fayde

अंजीर के फायदे

इंसान को मिली सबसे खूबसूरत चीज शायद आंखे ही ही हैं, लेकिन अधिक मात्रा में गैजेट्स का इस्तेमाल करने या विटामि ई की कमी से रेटिना प्रभावित होने लगती है। जिससे आंखों की रोशनी कमजोर पड़ने लगती है। ऐसे में आप अंजीर का सेवन कर सकते हैं, इसमें अधिक मात्रा में विटामिन ए पाई जाती है। इसके रोजाना सेवन से डैमेजड आंखे ठीक होने लगती है, वंही यह रेटिना पर पड़ने वाले बुरे प्रभाव से भी बचाता है। 

डायबिटीज़ के मरीज़ों के लिए Anjeer Ke Fayde

anjeer ke fayde

अमेरिकन डायबिटीज़ की रिसर्च के मुताबिक अंजीर के अंदर पाए जाने वाले पोषक तत्व मधुमेह या डायबिटीज को रोकने में सबसे कारगर सिद्ध होते हैं।  वही अंजीर के पेड़ के पत्तों के सेवन से डायबिटीज़ के मरीज को इंसूलिन के इंजेक्शन पर निर्भर नहीं रहना पड़ता। यह पोटेशियम का एक सबसे बड़ा स्रोत है जो शरीर में मौजूद शुगर के अवशेषण को बहुत हद तक नियंत्रित रखता है। साथ ही इसके कारण ब्लड में शुगर के उतार चढ़ाव को भी संतुलित करता है, जिससे डायबिटीज के मरीजो को एक साधारण जीवन जीने में मदद मिलती है।

कैंसर को पैदा होने से रोकता है

अगर आप रोजना अंजीर का सेवन करते हैं तो इससे कोलन कैंसर का खतरा कम हो जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इसमें हाई फाइबर और श्लेष्म होता है, जो मल को एकत्र करने में तथा उसे त्यागने में बहुत मदद करता है, जिससे कोलन कैंस का खतरा कम हो जाता है।

वजन घटाने Anjeer ke fayde 

अंजीर के रोजाना सेवन से वजन कम करने में बहुत मदद मिलती है, इसलिए अक्सर डॉक्टर भी मोटे लोगों को इसकी सलाह देते हैं। लेकिन इसके अधिक सेवन से या इसे दूध में डाल कर खाने से यह आपका वजन बढ़ाने का काम कर सकता है।

यौन रोगियों के लिए Anjeer Ke Fayde

परंपरागत रूप से भारतीय उपमहाद्वीपों में एक लम्बे दशक से अंजीर का इस्तेमाल यौन रोगो के इलाज के लिए किया जा रहा है। हालांकि अब तक विज्ञान की ओर से ऐसी कोई रिसर्च नहीं हुई है, तो इसे पूरी तरह सही माना भी नही जा सकता। लेकिन पौराणिक कथाओं में अंजीर का जिक्र किया हुआ है, इनमे दिया है कि यह फल किस तरह यौन रोगो से लड़ने में मदद करता है। अगर आपको यौन सम्बंधित समस्या हो तो आप रोज रात को दूध में 2 से 3 अंजीर डाल कर खा सकते हैं। इससे यह समस्या खत्म हो सकती है।

कब्ज के लिए अंजीर के फायदे

कब्ज एक बहुत ही गंभीर समस्या है, लेकिन जो लोग रोजाना अंजीर का सेवन करते हैं उन्हे यह समस्या नहीं आती। इसका कारण है इसमे मौजूद फाइबर की मात्रा।  50 ग्राम की अंजीर में 1.45 ग्राम फाइबर होता है, जो न केवल कब्ज की समस्या को खत्म कर देता है, अपितु उससे बचाव भी करता है। यह मल त्यागने की प्रक्रिया को बेहद आसान बना देता है, साथ ही इसके रोजाना का सेवन करने से डायरिया की समस्या भी खत्म हो जाती है। 

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए 

कोलेस्ट्रॉल पर अंजीर के फायदेअंजीर के अंदर ओमेगा 6, और ओमेगा 3एसिड होता है जो शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को आसानी से खत्म कर देता है। इसके अलावा यह ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रण में रखता है। अंजीर के अंदर विटामिन बी-6 भी होता है जो शरीर में सेरोटोनिन के उत्पादन को बढ़ाता है, इसके आपका मूड हर समय अच्छा रहता है 

ब्लड प्रेशर कम करने में अंजीर है फायेदमंद

अंजीर का रोजाना सेवन करने से ब्लड प्रेशर की समस्या पूरी तरह खत्म हो जाती है। इसमें ओमेगा-3 ओमेगा-6 और फाइबर की मदद से यह होता है। इसमे अधिक मात्रा में पोटेशियम भी पाया जाता है जो हाइपरटेंशन के मरीजों के लिए बेहद जरूरी है। 

दिल के लिए Anjeer ke fayde

अंजीर के रोजाना सेवन से दिल की बीमारियों से भी छुटकारा मिल जाता है, साथ ही यह हृद्य की समस्या पैदा ही नहीं होने देता और यह सब होता है इसके अंदर मौजूद पोषक तत्वों की वजह से।

अंजीर लीवर के लिए होगा फायदेमंद

ANJEER KE FAYDEअंजीर खाने के जितने फायदे हैं उतने ही फायदे उसके पेड़ के पत्तो के भी है। NCBI की गई रिसर्च के मुताबिक इसकी पत्तियों में हेप्टोप्रोटेक्टिव गुण पाया जाता है, जो लीवर को हानिकारक तत्वो से पूरी तरह सुरक्षित रखता है। लीवर के लिए अंजीर की पत्तियों का पाउडर का सेवन भी किया जाता है।

अंजीर हड्डियों के लिए फायदेमंद

अंजीर के अंदर मैग्निशियम पोटैशियम, और कैल्शियम का एक बहेतरीन स्रोत माना जाता है। यह सभी मिनरल्स हमारी हड्ड्यिो को मजबूत बनाए रखने के लिए बेहद जरूरी है। अंजीर का रोजाना सेवन करने से  हड्डियां मजबूत रहती हैं।

स्किन पर Anjeer Ke Fayde

अंजीर के अंदर मौजूद तत्व स्किन को बेहतर बनाए रखते हैं बढ़ती उम्र के कारण चेहरे पर पड़ने वाली  वाली झुर्रियां को यह धुंधला कर देता है। साथ ही इसमें  मौजूद पोषक तत्व स्किन पर हमेशा ग्लो बना कर रखते हैं।

बालों पर अंजीर के फायदे

अगर आप अपने झड़ते बाल या इन्हे कमजोर होता देख रहे हैं और महंगे महंगे प्रोडक्ट इस्तेमाल करके देख चुके हैं तो आपको एक बार अंजीर का सेवन करना जरूर शुरू करना चाहिए महज कुछ ही सप्ताह में आपके बालों पर इसका असर दिख जाएगा।

anjeer ke faydeइसके आलावा आप चाहें तो दो चम्मच दही, बेसन पेस्ट का पेस बना कर तैयार कर ले। इसके बाद इसमें 10 बूंद अंजीर के तेल की डाल दे और अब बालों में लगाकर एक घंटे के लिए छोड़ दें। इसके बाद शैंपू से धोले आपको पहले दिन से ही असर महसूस होना शुरू हो जाएगा।

इस तरह अधिक होंगे अंजीर खाने के फायदे

  1.  अंजीर के फल को छिलका उतार कर भी खा सकते हैं और छिलके के साथ भी। 
  2. सूखी अंजीर जिसे ड्राइ फ्रूट में भी गिना जाता है आप इसे सुबह या शाम को खा सकते हैं। 
  3. सैंडविच या सलाद में डालकर  अंजीर खाने के फायदे बहुत अधिक होते हैं।
  4. सूखे अंजीर में शुगर अधिक होता है ऐसे मे अगर आप कुछ मीठा बना रहे हैं तो चीनी का जगह इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  5. अंजीर का जैम बाजार में मिलता है आप चाहें तो इसका सेवन भी कर सकते हैं। 
  6. सूखी अंजीर को सूप में डालकर खाना बहुत फायदेमंद होता है।

अंजीर के नुकसान

  • अंजीर की तासीर गर्म होती है लिहाजा इसके अधिक सेवन से बचना चाहिए। आम तौर पर इसे सर्दियों में ही खाया जाता है लेकिन अगर आप एक या दो अंजीर पूरे दिन में खाते हैं तो इसका कोई नुकसान नहीं होता।
  • अंजीर को अधिक मात्रा में खाने से डायरिया हो सकता है। 
  • सुखे अंजीर में शुगर की मात्रा बहुत अधिक होती है, ऐसे में अगर आप इसका अधिक सेवन करते हैं तो इससे आपके दांत सड़ने लगते हैं।
  • इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से स्किन एलर्जी होने का चांस बढ़ जाता है।
  • जरूरत से ज्यादा अंजीर खाने से इसका असर आपकी पाचन प्रणाली पर भी पड़ता है। 
  • इसके अधिक खाने से पेट दर्द की समस्या भी हो सकती है।

प्रशनोत्तर

क्या हृद्य को भी अंजीर के फायदे होते हैं?

हां इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व हृद्य को बहुत फायदा पंहुचाते हैं।

क्या अंजीर के पेड़ के पत्तों के भी फायदे होते हैं?

हां अंजीर के पेड़ के पत्ते या उसका पाउडर लीवर के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

क्या गर्भवती मिहला को अंजीर के लाभ होते हैं?

हां अंजीर खाने के फायदे गर्भवती महिलाओं को बहुत अधिक होते हैं।

क्या अंजीर खाने के नुकसान भी होते हैं?

हां अंजीर का अधिक मात्रा में सेवन करने के बहुत नुकसान हो सकते हैं, लेकिन इसका सेवन नियमित रूप से किया जाए तो इसके लाभ ही होंगे।

यह भी पढ़ें>>>>> चीनी खाने के नकुसान और फायदें

You may also like

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *